विश्व की वर्तमान परिस्थिति से जूझने के लिये हमारी साईट पर आपके लिए उपलब्ध संसाधन

इस चुनौतीपूर्ण समय में परमहंस योगानन्दजी के आश्रमों में हम वाईएसएस/एसआरएफ़ के विश्वव्यापी आध्यात्मिक परिवार और साथ ही समस्त मानव जाति के कल्याण हेतु काफी चिंतित हैं। मुख्यतः हम आपको प्रोत्साहित करना चाहते हैं कि आप अंतर्मुखी होकर सुरक्षा और आश्वासन के अमोघ आंतरिक स्रोत तक पहुँचने का प्रयत्न करें। इस उद्देश्य से हमने आपके लिये यहाँ कुछ ऑनलाइन संसाधन दिये हैं जो इस समय में या किसी अन्य कठिन परिस्थिति से उभरने के प्रयासों में आपकी सहायता कर सकते हैं। हम आने वाले सप्ताहों में इस सूची में और संसाधन जोड़ते जायेंगे।

स्वामी चिदानंद गिरि के संदेश

“संकट या आध्यात्मिक अवसर?” नामक इस संदेश में वाईएसएस/एसआरएफ़ के अध्यक्ष श्री श्री स्वामी चिदानंद गिरि जी ने वर्तमान वैश्विक परिस्थितियों से उत्पन्न चुनौतियों का सामना करने के लिये हमें मार्गदर्शन प्रदान किया है।

स्वामी चिदानंद जी ने वर्तमान वैश्विक परिस्थितियों के विषय में 14 मार्च को एक वीडियो पोस्ट किया है, जिसमें उन्होंने इस कठिन समय का सामना करने के लिए एक उत्साहवर्द्धक संदेश तथा साध्य मार्गदर्शन दिया है, और एक ध्यान का सत्र तथा प्रार्थना सेवा भी संचालित की है । इस वीडियो के उपशीर्षक हिंदी में उपलब्ध हैं।

एसआरएफ़ ऑनलाइन ध्यान केंद्र

ध्यान-में-भाग-लें

एसआरएफ़ ऑनलाइन ध्यान केंद्र सभी के लिए खुला है। चाहे आप विश्व के किसी भी स्थान पर क्यों न हों, यह आपको सामूहिक ध्यान का यथार्थ अनुभव प्राप्त करने का एक सुंदर अवसर प्रदान करता है, ठीक वैसा ही जैसा वाईएसएस/एसआरएफ़ के आश्रमों, केंद्रों, मण्डलियों और रिट्रीट स्थलों में मिलता है। इनमें से कुछ ऑनलाइन ध्यान-सत्रों का संचालन वाईएसएस/एसआरएफ़ के संन्यासियों द्वारा किया जा रहा है, और शेष सत्रों का संचालन वाईएसएस/एसआरएफ़ के वरिष्ठ भक्तगण कर रहे हैं। हम आपको उन हजारों लोगों के साथ जुड़ने के लिए आमंत्रित करते हैं, जो ईश्वर के साथ तथा भक्तों और साधकों के इस विश्वव्यापी आध्यात्मिक परिवार के साथ संपर्क करने के इस प्रभावकारी उपाय को अपना रहे हैं ।

para-ornament

साप्ताहिक ऑनलाइन प्रेरणात्मक सत्संग

आजकल हम प्रत्येक सप्ताह वाईएसएस/एसआरएफ़ के किसी संन्यासी द्वारा एक नया ऑनलाइन प्रेरणात्मक सत्संग प्रस्तुत कर रहे हैं। इन कार्यक्रमों में ध्यान अभ्यास, चांटिंग और परमहंस योगानन्दजी की शिक्षाओं पर प्रवचन सम्मिलित किए जाते हैं। यहाँ प्रस्तुत किये गए सत्संगों द्वारा आप हर सप्ताह परमहंस योगानन्दजी के विश्वव्यापी आध्यात्मिक परिवार के साथ सत्संग में शामिल हो सकते हैं।

कृपया ध्यान दीजिए हम इन प्रेरणादायक ऑनलाइन सेवाओं को हमारी वेबसाइट के “साप्ताहिक एवं विशेष सेवाओं” नामक उपशीर्षक में संग्रहित करते रहेंगे ।

para-ornament

परमहंस योगानन्दजी की ज्ञान-विरासत में से संस्तुत पठन सामग्री

वाईएसएस की वेबसाइट पर "जीने की कला "का ज्ञान

ई-बुक्स

जहाँ है प्रकाश: विशेषतः इस पुस्तक के ये तीन अध्याय – अध्याय 2, “विपत्ति के समय में शक्ति”; अध्याय 3, “ध्यान करना सीखिये”; और अध्याय 4, “दुःखों से ऊपर उठना”

मानव की निरन्तर खोज: विशेषतः इस पुस्तक में “मानसिक रेडियो से स्थायी भय को दूर करना” नामक अध्याय

para-ornament

आंतरिक दैवी सत्ता से जुड़ने के लिए निर्देशित ध्यान-सत्र

हमारी वेबसाइट पर विभिन्न विषयों पर अनेक प्रकार के निर्देशित ध्यान अभ्यास उपलब्ध हैं जिनमें “निर्भीक जीवन कैसे जियें” और “शांति” जैसे विषय सम्मिलित हैं। प्रत्येक सत्र का संचालन योगदा सत्संग सोसाइटी/सेल्फ़-रियलाइज़ेशन फ़ेलोशिप के किसी संन्यासी द्वारा किया गया है। अभी ये निर्देशित ध्यान अभ्यास केवल अंग्रेज़ी में उपलब्ध हैं।

para-ornament

प्रार्थना तथा प्रतिज्ञापन की शक्ति

हमारी वेबसाइट का एक पूरा भाग प्रार्थनाओं व प्रतिज्ञापनों की शक्ति को समर्पित है, जिसमें निम्नलिखित विषय भी सम्मिलित हैं:

para-ornament

प्रार्थना के लिए अनुरोध

प्रार्थना-अनुरोध

आप किसी व्यक्ति विशेष के लिए प्रार्थना का अनुरोध कर सकते हैं। उनका नाम योगदा सत्संग प्रार्थना मण्डल की नित्य प्रति की प्रार्थना में सम्मिलित किया जाएगा। इस प्रार्थना मण्डल में वाईएसएस/एसआरएफ़ के अध्यक्ष, श्री श्री स्वामी चिदानंद गिरि सहित, योगदा के सभी संन्यासी शामिल हैं। प्रतिदिन सुबह-शाम यह प्रार्थना मण्डल गहन ध्यान के उपरांत दूसरों के लिये प्रार्थना करता है और परमहंस योगानन्दजी द्वारा सिखाई गईं आरोग्यकारी प्रविधि का अभ्यास करता है।

para-ornament

योगदा सत्संग सोसाइटी की गतिविधियों के समाचार एवं घोषणाएँ

हम आपको योगदा सत्संग सोसाइटी के समाचार की अद्यतन जानकारी देते रहेंगे। मासिक प्रेरणात्मक तथा समयोचित सूचना प्राप्त करने के लिए आपसे अनुरोध है कि आप हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें।

शेयर करें

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on email