YSS

ऑनलाइन पूर्ण-दिवसीय क्रिसमस ध्यान

रविवार, दिसम्बर 20

प्रातः 10:00 बजे से

– सायं 6:00 बजे तक

(भारतीय समयानुसार)

कार्यक्रम के विवरण

यदि भक्त यह जान ले कि वह अकेला नहीं है अपितु परमेश्वर उसके साथ हैं तब प्रत्येक ध्यान सत्र एक विशेष महत्व रखता है। प्रविधियों का गहन अभ्यास करें, तदुपरान्त परमेश्वर के समक्ष अपना हृदय खोलें, उनसे आपको दर्शन देने का आग्रह करें। धीरे-धीरे आप पाएंगे कि आपकी चेतना उनकी (परमेश्वर की) उपस्थिती की अनुभूति से सराबोर होती जा रही है।

— परमहंस योगानन्द

क्राइस्ट चेतना (कूटस्थ चैतन्य) के साथ सम्पर्क स्थापित करने के लिये परमहंस योगानन्दजी ने क्रिसमस पर्व के दौरान एक पूर्णदिवसीय ध्यान-सत्र को शामिल करने की प्रथा का शुभारम्भ किया था। उनके अनुसार क्रिसमस को मनाने का यही सही ढंग है।

योगदा संन्यासियों द्वारा आठ घंटों के लम्बे क्रिसमस ध्यान का संचालन हुआ। यह ध्यान दिनांक 20 दिसम्बर, 2020 प्रातः 10:00 बजे से सायं 6:00 बजे (भारतीय समयानुसार) तक हुआ।

नवागंतुक

परमहंस योगानन्दजी और उनकी शिक्षाओं के बारे में और अधिक जानने के लिए नीचे दिए गए लिंक्स पर जाएँ:

शेयर करें

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on email