निर्देशित ध्यान

जब आप लंबे समय तक ध्यान करते हैं...इश्वर की दिव्य महिमा अनुभव करते हैं। तब आप को यह बात समझ में आती है कि आपके भीतर सदा ही कुछ अतिविशेषता थी, परन्तु आपको इसका ज्ञान नहीं था।

— Paramahansa Yogananda

चरण 1: परिचय

अपनी व्यस्त दिनचर्या से विराम लें और स्वयं को शांति का उपहार दें। शांति, प्रेम और प्रकाश के मरू-उद्यान में डूब जाएँ।

चरण 2: किसी ध्यान का चयन करें

जब आप तैयार हों, तो नीचे दिए गए ध्यान का चयन करें। प्रत्येक ध्यान लंबाई में लगभग 15 मिनट है।

निर्भयता पूर्वक जीवन

सफलता के लिए आन्तरिक वातावरण का निर्माण

चेतन का विस्तारण

शांति के लिए

प्रेम के विस्तारण के लिए

यह जानने के लिए कि ईश्वर प्रकाश हैं

शेयर करें

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on email