कोविड-19 से संबंधित धर्मार्थ गतिविधियाँ और मीडिया रिपोर्ट

वाईएसएस ने कोविड-19 तालाबंदी के दौरान निर्धन और ज़रूरतमंदों तक सहायता पहुँचाई

जैसे-जैसे कोरोना वायरस महामारी तेज़ी से अन्तर्राष्ट्रीय सीमाओं को पार करती हुई फैलती गई, वैसे-वैसे दुनिया भर में कई देशों ने इसे रोकने के लिए तालाबंदी को लागू करना आरम्भ कर दिया। भारत सरकार ने 25 मार्च, 2020 से पूरे देश में तालाबंदी की घोषणा की और तालाबंदी की स्थिति मई 2020 के पहले सप्ताह तक जारी रहने की संभावना है ।

इस अभूतपूर्व स्थिति ने सभी को प्रभावित किया है, लेकिन सबसे अधिक इसने उन लोगों को प्रभावित किया है जो गरीबी की सीमा रेखा पर रह रहे हैं—दिहाड़ी मज़दूर, ठेले पर सामान बेचने वाले, भिखारी, वृद्ध और दुर्बल। तालाबंदी लागू होने के तुरंत बाद से, योगदा सत्संग सोसाइटी ऑफ़ इंडिया ने समाज के इन वर्गों में खाद्य पदार्थों तथा नहाने और कपड़े धोने के साबुनों को बांटना शुरू किया। साथ ही, हमने सभी भक्तों से अपील की कि वे इस मानव-कल्याण कार्य हेतु दान देने के लिए आगे आयें ।

charity corona ranchi covid19 3
रांची:जोन्हा के 1200 परिवारों के लिए स्वच्छता सामग्री के साथ स्वामी ईश्वरानन्द

भक्तों ने उदार हृदय से अपील का प्रत्युत्तर दिया

दक्षिणेश्वर :झुग्गी बस्तियों के 300 परिवारों में राशन वितरण हेतु स्वयंसेवकों के साथ स्वामी अच्युतानन्द

हमारे अपील करने की देर थी कि प्रत्युत्तर में भक्तों ने अपना अनुदान भेजना शुरू कर दिया । भक्तों ने अपने हृदय खोल दिए और ज़रूरतमंद भाइयों और बहनों पर अपना प्रेम, करुणा, और उदारता बरसाया।

इन उदार योगदानों के द्वारा, वाईएसएस उन क्षेत्रों में कई हज़ार परिवारों को भोजन और स्वच्छता सम्बन्धी वस्तुओं को बाँट सका, जहाँ हमारे आश्रम स्थित हैं। वाईएसएस ज़रूरतमंदों की पहचान करने के लिए स्थानीय अधिकारियों से परामर्श कर रहा है और अन्य स्वयंसेवी संस्थाओं (NGO), जैसे ज़ोमाटो की फीडिंग इंडिया और स्थानीय क्लबों के साथ भागीदारी करके पीड़ितों तक राहत सामग्री पहुँचा रहा है।

वाईएसएस ध्यान केन्द्र और मंडलियाँ भी पीछे नहीं रहीं

नोएडा : नोएडा आश्रम के आस-पास की झुग्गी बस्तियों में राशन का वितरण

वाईएसएस, अपने केन्द्रों और मण्डलियों से कोविड-19 राहत कार्य करने का अनुरोध करने में संकोच कर रहा था; क्योंकि तालाबंदी की स्थिति में उनको वॉलन्टीयर का मिलना शायद मुश्किल हो। परंतु, बिना अनुरोध किए ही, कई वाईएसएस केंद्रों और मण्डलियों ने उत्साहपूर्वक आगे बढ़ कर, जो कुछ भी वे कर सकते थे, अपने निकटवर्ती क्षेत्रों में निर्धनों की मदद के लिए किया। अपने ही पड़ोस के निर्धनों की देखभाल करके उन्होंने प्रेम के सक्रिय रूप को दर्शाया ।

नोएडा: नोएडा आश्रम द्वारा प्रदान की गई राहत सामग्री को बाँटने में पुलिस द्वारा सहयोग

निर्धनों के अतिरिक्त, वाईएसएस पुलिस और डॉक्टरों की जितनी भी हो सके उतनी मदद कर रहा है। वाईएसएस का नोएडा आश्रम पुलिस कर्मियों को पेय जल की बोतलें, फलों का जूस और मास्क भी प्रदान कर रहा है। वाईएसएस ध्यान केन्द्र-कोयंबत्तूर ने अपने क्षेत्र के कई सौ डॉक्टरों को सुरक्षात्मक उपकरण प्रदान किये हैं। रांची के निकट के गांवों में लगभग 2700 परिवारों को नहाने और कपड़े धोने के साबुन दिए गए हैं।

इस पृष्ठ पर हम आपके साथ सेवा के कुछ ऐसे ‘स्नैपशॉट’ साझा करते हैं, जो हमें देशभर के वाईएसएस आश्रमों, केन्द्रों और मंडलियों से प्राप्त हो रहे हैं। सैंकड़ों भक्तों द्वारा की जा रही सेवा ने समाचार पत्रों और ब्लागर्स का ध्यान आकर्षित किया, जिन्होंने अपने मीडिया पर समाचारों को छापा–प्रिंट एवं डिजिटल, दोनों पर। हम उनमें से कुछ रिपोर्टों को भी साझा करते हैं।

हम वाईएसएस के भक्तों और सभी सहयोगी स्वयंसेवी संस्थाओं (NGO) के योगदान के लिए उनका धन्यवाद करते हैं; जिन्होंने अपने समय, संसाधनों, आर्थिक मदद, और इन सबसे ऊपर अपने हृदय के प्रेम से, उन सब के हृदयों में आशा का दीपक जलाया, जो इस संकट की स्थिति में फंसे हुए हैं।

यह हमारी हार्दिक प्रार्थना है कि ईश्वर और गुरुजन आप सभी को अपनी कृपा और प्रेम की सर्वव्यापी आभा में सदैव सुरक्षित रखें

Relief package Delhi
दिल्ली : राहत सामग्री के साथ भक्त
Relief kit for Covid19
मुंबई: मुंबई केन्द्र के भक्त निर्धनों हेतु एक स्वयंसेवी संस्था (NGO) को सूखे राशन प्रदान करते हुए
Monks prepare charity kits (covid19) for distribution, Ranchi
राँची : वाईएसएस संन्यासी वितरण के लिए दान सामग्री तैयार करते हुए
Relief packets during Lockdown( covid 19) YSS Kendra Hyderabad
हैदराबाद : गुरुदेव की फोटो और 300 परिवारों के लिए राशन के साथ भक्त जन
YSS Haridwar prepares
हरिद्वार: वाईएसएस के भक्त पुलिस के साथ परिव्राजक साधुओं को खाना बाँटते हुए

मीडिया रिपोर्ट

May 11

May 4

April 30

April 19

April 11

April 10

शेयर करें

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on email