YSS

महावतार बाबाजी स्मृति दिवस

सोमवार, 25 जुलाई, 2022

सुबह 6:30

– 8:00 बजे तक

(भारतीय समयानुसार)

कार्यक्रम के विवरण

मेरी प्रकृति प्रेम है; क्योंकि केवल प्रेम ही संसार को परिवर्तित कर सकता है …

— महावतार बाबाजी

वर्ष 1920 में 25 जुलाई को परमहंस योगानन्दजी की भेंट महावतार बाबाजी से हुई। यह भेंट योगानन्दजी की उत्कट प्रार्थना का परिणाम थी, जो उन्होंने दुनियाभर में क्रियायोग की शिक्षाओं का प्रसार करने के लिए अमेरिका की यात्रा पर प्रस्थान करने से पहले की थी।

महावतार बाबाजी के प्रति श्रद्धा अर्पित करने के इस महत्वपूर्ण अवसर पर एक वाईएसएस संन्यासी द्वारा संचालित ध्यान तथा प्रवचन का कार्यक्रम आयोजित किया गया।

para-ornament

यदि आप इस पावन अवसर पर प्रणामी देना चाहें तो कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

नवागंतुक

परमहंस योगानन्दजी और उनकी शिक्षाओं के बारे में और अधिक जानने के लिए नीचे दिए गए लिंक्स पर जाएँ:

शेयर करें

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on email